The Social Media News

Trend With Us

Love Jihad देश को बांटने के लिए गढ़ा गया शब्द?

Share Us

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज ट्ववीट करके Love Jihad को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा है।

उन्होंने ट्विटर पर तीन ट्वीट करके Love Jihad पर अपनी बात रखी। जिसमें उन्होंने कहा है कि देश को बांटने के उद्देश्य से भाजपा ने ही Love Jihad शब्द को गढ़ा है।

अपने ट्वीट में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिखा

‘लव जिहाद शब्द देश को बांटने और सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के लिए भाजपा का गढ़ा हुआ शब्द है। विवाह व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला है.

इसपर अंकुश लगाने के लिए एक कानून लाना पूरी तरह से असंवैधानिक है और यह कानून की किसी भी अदालत में खड़ा नहीं होगा। लव में जिहाद का कोई स्थान नहीं है।’

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का ट्वीट

अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘वह राष्ट्र में एक ऐसा वातावरण बना रहे हैं, जहां आपसी सहमति व्यक्त करने वाले व्यक्ति राज्य की शक्ति और दया के अधीन रहेंगे।

विवाह एक व्यक्तिगत निर्णय है और वह उसपर अंकुश लगा रहे हैं, जो व्यक्तिगत स्वतंत्रता को छीनने जैसा है।’

तीसरे ट्वीट में गलहोत लिखते हैं, ‘यह सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने, सामाजिक संघर्ष को बढ़ावा देने और राज्य के संवैधानिक प्रावधानों की अवहेलना करने जैसा है।जबकि राज्य किसी भी आधार पर नागरिकों के साथ भेदभाव नहीं करता है।’

क्यों जोर पकड़ रहा है Love Jihad का मुद्दा ?

हाल ही में मध्य प्रदेश में लव जिहाद को रोकने के लिए एक नया कानून ‘मध्य प्रदेश फ्रीडम ऑफ रिलीजन एक्ट-2020’ लाने की बात कही गयी । जिसका ड्राफ्ट लगभग तैयार हो गया है।

इसके तहत लव जिहाद के मामले में पांच साल की सजा होगी। इसके साथ ही पहले हो चुके विवाह को रद्द करने का अधिकार भी फैमिली कोर्ट के पास होगा।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार भी इसपर जल्द कानून लाएगी। इसके लिए उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने कानून विभाग को एक प्रस्ताव भेजा है।

इससे पहले 29 अगस्त व 18 सितंबर को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को प्रदेश में लव जेहाद की घटनाएं सख्ती से रोकने के लिए निर्देश दिए थे।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए गृह विभाग एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों को कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए थे।


Share Us